05 जनवरी, 2011

मंगल और राहुल को दोहरा स्वर्ण

 


आल इंडिया इंटर रेलवे आरचरी में एसईआर 
के खिलाड़ी छाए, डोला को एकमात्र रजत
4 जनवरी, २०११.-पूर्व मध्य रेलवे (एसईसीआर) की मेजबानी में खेली जा रही पहली आल इंडिया आरचरी चैंपियनशिप में ओलंपियन मंगल सिंह चाम्पइया और राहुल बेनर्जी के लिए मंगलवार का दिन मंगलमयी  रहा। राहुल और मंगल सिंह ने दोहरे स्वर्ण पर निशाना दागा। इसके अलावा मेजबान दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे के खिलाड़ी छाए रहे। महिला वर्ग में स्टार आरचर डोला बेनर्जी को रजत पदक पर संतोष करना पड़ा।
डब्ल्यूआरएस मैदान में आयोजित इस प्रतियोगिता का उद्घाटन सुबह आठ बजे सेक्रसा अध्यक्ष और डीआरएम बिनायक पी स्वाइन ने किया। प्रतियोगिता में दोपहर तक रिकर्ब और कंपाउंड इवेंट के 90, 60, 70 मीटर के महिला और पुरुष वर्ग के व्यक्गित मुकाबलों के परिणाम आ चुके थे। 90 मीटर पुरुष वर्ग के रिकर्ब के मुकाबलों में ईस्टर्न रेलवे के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी और ओलंपियन मंगल  चाम्पइया ने 360 में से सर्वाधिक 322 अंक बटोरकर स्वर्ण पर निशाना मारा। राहुल बेनर्जी 309 अंक के साथ दूसरे स्थान पर रहे। कपिल ने 294 अंक के साथ तीसरा स्थान बनाया। 90 मीटर कंपाउंड पुरुष वर्ग के मुकाबले  काफी रोमांचक और संघर्षपूर्ण रहे। पल्टन हसदा ने 317 अंक के साथ स्वर्ण पदक, रामाराव ने 310 अंक के साथ रजत और कपिल ने 309 अंक के साथ कांस्य पदक हासिल किया। 70 मीटर रिकर्ब पुरुष वर्ग के मुकाबलों में ओलंपियन मंगल सिंह ने 332 अंक के साथ दोहरा स्वर्ण हासिल किया। एनएफआर के हेमंता ने 329 अंक लेकर रजत और कामनवेल्थ गेम्स के पदक विजेता राहुल ने •ाी 329 अंक के साथ कांस्य पदक हासिल किया। 70 मीटर कंपाउंड के पुरुष वर्ग के मुकाबलों में एसईसीआर के शिवनाथ नगेशिया ने 331 अंक बनाकर स्वर्ण, रामाराव ने 330 अंक के साथ  रजत और विकास ने  330 अंक के साथ कांस्य पदक हासिल किया। आल इंडिया इंटर रेलवे में महिला वर्ग के मुकाबले भी काफी रोमांचक रहे। दिग्गज अंतरराष्ट्रीय महिला तीरंदाजों के बीच रिकर्ब और कंपाउंड इवेंट के मुकाबले खेले गए। 70 मीटर रिकर्ब में दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे के रिमिल बिरुली ने 360 में से 323 अंक पर निशाना लगाकर स्वर्ण पदक हासिल किया। सुषमा 316 अंक लेकर दूसरे और लक्ष्मीरानी (312) दूसरे स्थान पर रहीं। 70 मीटर कंपाउंड के मुकाबलों में रोशनी ने 327, मंजूधा ने 316 और नमिता यादव ने 312 अंक लेकर क्रमश: स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक हासिल किया। 60 मीटर रिकर्ब के मुकाबलों में बाम्बइया ने 334 अंक लेकर स्वर्ण, रिमिल बिरुली ने 334 अंक लेकर रजत और लक्ष्मी ने 326 अंक के साथ कांस्य पदक हासिल किया। 60 मीटर कंपाउंड में मंजूधा (328), नमिता यादव (338) और रुशाली गोरले (319) ने क्रमश: स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक हासिल किया।
मेजबान का बेहतर प्रदर्श
इस प्रतियोगिता में मेजबान दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे के खिलाड़ियों ने बेहतर खेल का प्रदर्शन दिखाया। महिला और पुरुष वर्ग के 90, 70 और 60 मीटर के रिकर्ब व कंपाउंड के मुकाबलों में एसईसीआर ने 10 स्वर्ण पदक हासिल कर लिए। ईस्टर्न रेलवे ने छह स्वर्ण हासिल किया।  50 और 30 मीटर के मुकाबले शाम तक खेले गए। इन मुकाबलों में राहुल बेनर्जी ने दोहरा स्वर्ण हासिल किया। 50 मीटर रिकर्ब में राहुल बेनर्जी ने 342 अंक के साथ  स्वर्ण पदक पर निशाना साधा।, ए राजू (329) ने रजत और प्रसन्ना (328) ने कांस्य पदक हासिल किया। कंपाउंड में रामाराव (335), पल्टन हसदा (322)और शिवनाथ नगेशिया (320) क्रमश: पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे। 30 मीटर रिकर्ब के पुरुष वर्ग के मुकाबलों में राहुल (356), मंगल सिंह (349), प्रसन्ना (347), कंपाउंड के 30 मीटर में शिवनाथ (356), विकास (353), पल्टन (352) ने क्रमश: स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक हासिल किया। रिकर्ब महिला 30 मीटर में •ाी रोमांचक मुकाबले खेले गए। इन मुकाबलों में एसईआर की रिमिल ने 349 अंक के साथ स्वर्ण पदक हासिल किया। वहीं स्टार आरचर और कामनवेल्थ गेम्स की पदक विजेता डोला बेनर्जी को 342 अंक के साथ रजत पदक पर संतोष करना पड़ा। 340 अंक के साथ रीना कुमारी ने कांस्य पाया। कंपाउंड में नमिता (356), मंजूधा (349), वृशाली (349), रिकर्ब महिला 50 मीटर में सुषमा (330), रिमिल (322), बोम्बिला (315), कंपाउंड में मंजूधा (333),वृशाली (328), नमिता (325) क्रमश: पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर रहीं।
 इस प्रतियोगिता में दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे के 11 अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जौहर दिखा रहे हैं। इनमें नमिता यादव, बी प्रणिता, रोशाली गोरले, साकरो बेसरा, पल्टन हसदा, मंजूधा, लक्ष्मीरानी मांझी, शिवनाथ, रिमिल बिरुली, विकास शामिल हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: