11 जनवरी, 2011




तीरंदाजी ने बढाया रोमांच 
राज्यस्तरीय सबजूनियर प्रतियोगिता में
 प्रदेशभर के खिलाड़ियों ने दिखाया जौहर
रायपुर, ११ जनवरी, २०११. झारखंड के धनबाद में होने वाली नेशनल सबजूनियर आरचरी चैंपियनशिप में हिस्सा लेने के पूर्व राजधानी में 9वीं राज्य स्तरीय आरचरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में प्रदेश के 11 जिलों के खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। इस प्रतियोगिता में इंडियन राउंड के मुकाबले खेले गए।
राजधानी के आउटडोर स्टेडियम में आयोजित इस प्रतियोगिता में मेजबान रायपुर सहित दुर्ग, बिलासपुर, कवर्धा, जगदलपुर, बस्तर, नारायणपुर, कांकेर, महासमुंद और राजनांदगांव के 80 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में बालक और  बालिका दोनों वर्ग में बिलासपुर की टीम ओवरआल चैंपियन रही। 30 मीटर के बालक वर्ग के मुकाबले में अघन सिंह बिलासपुर ने 345 अंक बनाकर पहला, बिलासपुर के ही खेमसिंग ने 323 अंक के साथ दूसरा और बिलासपुर के भागवत ने 322 अंक के साथ तीसरा स्थान हासिल कर लिया। 20 मीटर में भी बिलासपुर के खिलाड़ियों ने बाजी मारी। भागवत ने 360 में से 331 अंक के साथ पहला, अघन सिंह (329) दूसरा और खेमसिंग (324) ने तीसरा स्थान हासिल कर लिया। ओवरआल पहले स्थान पर अघन (720 में से 674 अंक), दूसरे स्थान पर •ाागवत (653) और तीसरे स्थान पर खेमसिंग (647) रहे। टीम चैंपियनशिप का खिताब बिलासपुर ने 2160 अंक में से 1974 अंक ब्नाकर जीता। बस्तर की टीम 1873 अंक के साथ दूसरे और नारायणपुर की टीम 1486 अंक के साथ तीसरे स्थान पर रही। बालक वर्ग के साथ-साथ बालिका वर्ग में  बिलासपुर के तीरंदाजों ने बाजी  मारी। 30 मीटर में बिलासपुर की मिनी मरकाम ने 324 अंक बनाकर पहला, सरोज खुसरो बिलासपुर ने 322 अंक बनाकर दूसरा और राजनांदगांव की अनुराधा ठाकुर ने 292 अंक के साथ तीसरा स्थान बनाया। 20 मीटर में सरोज खुसरो बिलासपुर ने 322 अंक बनाकर पहला, मिनी मरकाम बिलासपुर ने 311 अंक बनाकर दूसरा और राजनांदगांव की अनुराधा ठाकुर ने 275 अंक के साथ तीसरा स्थान हासिल किया। ओवरआल सरोज (644) पहले, मिनी मरकाम (635) दूसरे और अनुराधा ठाकुर (567) तीसरे स्थान पर रहीं। टीम चैंपियनशिप बिलासपुर ने 2160 में से 1817 अंकों के साथ जीती। दूसरे स्थान पर राजनांदगांव (1453) और तीसरे स्थान पर कांकेर (1222) की टीम रही। इस प्रतियोगिता के समापन समारोह में जिला पंचायत अध्यक्ष अशोक बजाज ने विजेता-उपविजेता खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया। इस दौरान प्रदेश आरचरी एसोसिएशन के सचिव कैलाश मुरारका सहित कई अधिकारी और खिलाड़ी मौजूद थे। श्री मुरारका ने बताया कि इस प्रतियोगिता के आधार पर गठित होने वाली छत्तीसगढ़ की सबजूयिनर टीम झारखंड के धनबाद में इसी माह 19 से 24 जनवरी तक आयोजित होने वाली राष्ट्रीय सबजूनियर आरचरी प्रतियोगिता में हिस्सा लेगी। 

नन्हें तीरंदाजों ने किया उद्घाटन
9वीं राज्य स्तरीय सबजूनियर आरचरी प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ चेंबर आफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के नवनिर्वाचित अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी और  पूर्व अध्यक्ष पूरनलाल अग्रवाल बनाए गए थे। उद्घाटन स्थल पर राज्य आरचरी एसोसिएशन और प्रदेशभर के खिलाड़ियों ने करीब एक घंटा लंबा इंतजार किया। लेकिन अतिथि नहीं पहुंचे। अंतत: खिलाड़ी निराश हो गए और राज्य आरचरी एसोसिएशन ने खिलाड़ियों ने ही उद्घाटन कराने का निर्णय ले लिया। इस प्रतियोगिता में प्रदेश के कई जिलों के 10 से 12 साल तक की आयु के नन्हे तीरंदाज भी हिस्सा लेने पहुंचे थे। इनमें बालक और  बालिकाएं दोनों शामिल थीं। इन्हीं खिलाड़ियो से तीर चलवाकर प्रतियोगिता का उद्घाटन कराया गया। राज्य आरचरी एसोसिएशन के इस कदम की प्रदेश के खेल विशेषज्ञों और स्वयं खिलाड़ियों ने भी खूब सराहना की।



कोई टिप्पणी नहीं: