15 फ़रवरी, 2011

फेडरेशन कप का खिताब मेजबान की झोली में


राज्यपाल श्री शेखर दत्त छत्तीसगढ़ की टीम को पुरस्कृत करते हुए. 

छत्तीसगढ़ की टीम के कोच राजेश पटेल का भी राज्यपाल ने सम्मान किया.

छत्तीसगढ़ और साउथ रेलवे के बीच खेले गए फ़ाइनल मेंच का दृश्य. 








पुरुष वर्ग में वेस्टर्न रेलवे ने आईओबी को हराकर जीता 
 मेजबान छत्तीसगढ़ की लड़कियां अपनी उम्मीदों पर सौ फीसदी खरी उतरीं। 25वीं फेडरेशन कप राष्ट्रीय बास्केटबाल प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में खिताब की दावेदार दक्षिण रेलवे को हराकर अपना लोहा मनवा लिया। इस जीत के बाद छत्तीसगढ़ की महिला टीम के हौसले बुलंद हैं और टीम ने इस बात का भी अहसास करा दिया है कि झारखंड के 34वें नेशनल गेम्स में भी टीम पदक हासिल करेगी। फेडरेशन कप में महिला और पुरुष दोनों वर्ग के फाइनल मुकाबले काफी रोमांचक और संघर्षपूर्ण रहे। दोनों ही मुकाबलों ने दर्शकों का काफी रोमांच बढ़ाया।
रायपुर।  मेजबान छत्तीसगढ़ की टीम ने केरल को और दक्षिण  रेलवे ने दिल्ली की टीम को सेमीफाइनल मुकाबले में परास्त कर फाइनल में प्रवेश किया था। छत्तीसगढ़ और दक्षिण रेलवे के बीच खेले गए फाइनल मुकाबले का पहला क्वार्टर दक्षिण रेलवे के पक्ष में गया। दक्षिण रेलवे ने शुरुआत से ही काफी बेहतर खेल का प्रदर्शन करते हुए पहले क्वार्टर में 28-11 अंक से बढ़त बना ली थी। तब लग रहा था कि छत्तीसगढ़ के लिए यह मुकाबला जीतना असं•ाव होगा और जीत के लिए पूरी ताकत झोंकनी पड़ेगी। मेजबान ने ऐसा किया भी। दूसरे क्वार्टर में छत्तीसगढ़ ने शानदार प्रदर्शन कर स्कोर 35-35 अंक से बराबरी पर ला दिया तब मैच और भी रोमांचक व संघर्षपूर्ण बन गया। तीसरे क्वार्टर में छत्तीसगढ़ की एम पुष्पा, सीमा सिंह और कप्तान अंजु लकड़ा ने काफी अच्छे खेल का प्रदर्शन किया और टीम को 66-49 अंकों से बढ़त दिलाकर एक  बड़ा उलटफेर कर दिया। चौथा क्वार्टर सबसे ज्यादा संघर्षपूर्ण रहा जिसमें दोनों टीमों का उम्दा खेल देखने को मिला। छत्तीसगढ़ ने चौथे क्वार्टर में मात्र पांच अंकों के अंतर से जीत हासिल कर खिताब पर कब्जा जमा लिया। मेजबान ने 76-71 अंकों से जीत हासिल की। टीम की अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी एम पुष्पा ने सर्वाधिक 29 अंक, सीमा सिंह ने 22 अंक तथा कप्तान अंजु लकड़ा व भारती नेताम ने 13-13 अंक बनाए। दक्षिण रेलवे की अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी गीता अन्ना जोस ने सर्वाधिक 27 अंक बनाए लेकिन वे टीम को जीत की राह पर खड़ा नहीं कर सकीं। महिला वर्ग की तरह पुरुष वर्ग में भी काफी रोमांचक औ संघर्षपूर्ण मुकाबला देखने को मिला। पुरुष वर्ग का फाइनल मुकाबला वेस्टर्न रेलवे और आईओबी के बीच खेला गया। इस मैच ने दर्शकों के अलावा अतिथियों का काफी रोमांच बढ़ाया। मैच के पहले हाफ में वेस्टर्न रेलवे 48-34 अंक से आगे थी। तीसरे क्वार्टर में भी रेलवे ने मैच पर पकड़ बनाए रखी और 60-57 अंक से बढ़त बनाई। इस मैच का अंतिम क्वार्टर काफी संघर्षपूर्ण रहा जब एक-एक अंक के लिए दोनों टीमों ने जोर लगा दिया। इस मैच के अंतिम दो मिनट शेष रहते रेलवे ने 79-69 की बढ़त बनाई थी। अंतिम 19 सेंकड शेष रहते आईओबी ने कमाल का प्रदर्शन किया और 74-73 अंक से बढ़त बना ली। लेकिन इसके बाद दोनों टीमों में घमासाम मच गया। अंतिम तीन मिनट शेष रहते 75-74 से रेलवे आगे थी और इस दौरान आईओबी के सारे प्रयास विफल हो गए। आईओबी को मात्र एक अंक से पराजय का सामना करना पड़ा। वेस्टर्न रेलवे के विशेष ने  सर्वाधिक28, यादविंदर सिंग ने 15 अंक बनाए। अईओबी के एच खारोट ने 20, वीएम रेवी ने 16, मिहिर पांडे ने 12 और पी सिंग ने •ाी 12 अंक बनाए। इसके पूर्व सुबह महिला और पुरुष दोनों वर्ग में तीसरे व चौथे स्थान के लिए मुकाबले खेले गए। महिला वर्ग में दिल्ली ने केरल को 70-58 अंक से हराकर तीसरा स्थान हासिल किया। केरल को चौथे स्थान पर संतोष करना पड़ा। पुरुष वर्ग में इंडियन आर्मी ने ओएनजीसी को 68-59 अंक से हराकर तीसरा स्थान हासिल किया।  प्रतियोगिता के समापन समारोह के मुख्य अतिथि राज्यपाल शेखर दत्त ने विजेता-उपविजेता और तीसरे स्थान की टीम को पुरस्कृत किया। पुरुष वर्ग में पहले स्थान पर वेस्टर्न रेलवे, दूसरे स्थान पर आईओबी, तीसरे स्थान पर इंडियन आर्मी की टीम रही। महिला वर्ग में पहला स्थान छत्तीसगढ़, दूसरा दक्षिण रेलवे और तीसरा स्थान दिल्ली की टीम ने हासिल किया। पहले स्थान पर एक लाख रुपए, दूसरे स्थान पर 75 हजार रुपए और तीसरे स्थान पर 50 हजार रुपए का नगद पुरस्कार दिया गया। समारोह की अध्यक्षता लोक निर्माण मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने की। इस दौरान खेल मंत्री लता उसेंडी,  भारतीय  बास्केटबाल फेडरेशन के अध्यक्ष हरीश शर्मा, खेल सचिव सुब्रत साहू, खेल संचालक जीपी सिंह, राज्य बास्केटबाल संघ के अध्यक्ष राजीव जैन, राज्य टेनिस संघ के सचिव गुरुचरण सिंह होरा, राज्य वालीबाल संघ के सचिव मोहम्मद अकरम खान, राज्य नेटबाल संघ के सचिव संजय शर्मा सहित बड़ी संख्या में विभिन्न खेल संघों के पदाधिकारी, खिलाड़ी और दर्शक मौजूद थे।
टीम- अंजु लकड़ा (कप्तान), सीमा सिंह, भारती नेताम, पुष्पा, आकांक्षा सिंह, अरुणा किंडो, एल दीपा, शोषण तिर्की ( सभी दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे), कविता, जेलना जोश ( दोनों भिलाई इस्पात संयंत्र), ज्योति सिंह (रायपुर जिला), विनिता शर्मा (राजनांदगांव जिला), मुख्य कोच भिलाई इस्पात संयंत्र के अंतरराष्ट्रीय कोच राजेश पटेल, सहायक कोच सरजीत चक्रवर्ती, प्रबंधक अनिता पटेल।
ये रहे टाप स्कोरर
टॉप स्कोरर दिल्ली की प्रशांति सिंग को श्री दत्त पुरस्कार देते हुए. 

टॉप स्कोरर पशिम रेलवे के विशेष को श्री दत्त पुरस्कार देते हुए. 

25वीं फेडरेशन कप राष्ट्रीय बास्केटबाल प्रतियोगिता में टाप स्कोरर का खिताब भी  दिया गया।   महिला वर्ग में टाप स्कोरर दिल्ली की अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी प्रशांति सिंह रहीं जिन्होंने इस पूरी प्रतियोगिता में सर्वाधिक 129 अंक बनाए। पुरुष वर्ग में रेलवे के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी विशेष  टाप स्कोरर रहे। विशेष ने 101 कुल 101 अंक स्कोर किए। दोनों ही खिलाड़ी मूलत: वाराणसी के रहने वाले हैं और दोनों ही खिलाड़ियों ने ग्वांगझू एशियन गेम्स में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया था। इन दोनों खिलाड़ियों को राज्यपाल शेखर दत्त ने ट्राफी के साथ नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया।

अंतिम एक मिनट ने बढ़ा दी धड़कनें




फेडरेशन कप बास्केटबाल प्रतियोगिता के महिला वर्ग के फाइनल मुकाबले में अंतिम एक मिनट में दर्शकों की धड़कनें बढ़ गईं थी क्योंकि इस एक मिनट में कुछ •ाी हो सकता था। तब छत्तीसगढ़ ने 70-69 अंक से बढ़त बनाई थी। अंतिम 50 सेकंड शेष रहते मेजबान ने 73-69 की बढ़त बनाई। दक्षिण रेलवे ने सिर्फ चार अंक के स्कोर को कवर करने पूरी कोशिश की। अंतिम 30 सेकंड में स्कोर 73-71 अंक था। अंतिम 20 सेकंड शेष रहते स्कोर 75-71 अंक बना रहा और अंतिम सेकंड में छत्तीसगढ़ ने 76-71 अंक से जीत हासिल कर फेडरेशन कप का खिताब जीत लिया।
राज्यपाल की मौजूदगी में लाइट गोल
खेल एवं युवा कल्याण विभाग और छत्तीसगढ़ बास्केटबाल संघ की मेजबानी में आयोजित इस प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबलों में बिजली ने भी बाधा खड़ी की। तब मुख्य अतिथि के रूप में राज्यपाल शेखर दत्त सहित सभी अतिथि मौजूद थे। इस दौरान पुरुष वर्ग में आईओबी और वेस्टर्न रेलवे के बीच फाइनल मुकाबले का अंतिम क्वार्टर खेला जा रहा था। वेस्टर्न रेलवे ने 60-51 से बढ़त बनाई थी। 10 मिनट के अंतिम क्वार्टर के 9 मिनट 39 सेकंड में ही इनडोर स्टेडियम की बिजली गुल हो गई। इसके बाद मैच रोकना पड़ गया। करीब छह मिनट तक बिजली गुल रही और खेल पूरे 12 मिनट तक रुका रहा। इस दौरान •ाारतीय बास्केटबाल संघ के सचिव हरीश शर्मा और खेल मंत्री लता उसेंडी का उद्बोधन कराया गया। सुश्री उसेंडी ने अपना उद्बोधन शुरू किया और कुछ ही देर में बिजली  आ गई।

खेलों के आयोजन लगातार होते रहें : राज्यपाल

फेडरेशन कप बास्केटबाल प्रतियोगिता के समापन समारोह के मुख्य अतिथि राज्यपाल शेखर दत्त ने कहा कि खुशी की बात है कि इनडोर स्टेडियम के उद्घाटन के फौरन बाद इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जितनी भी खेल की सुविधाएं हैं वहां लगातार स्पर्धाएं, कोचिंग और खेल होने चाहिएं। उन्होंने कहा कि बास्केटबाल काफी रोमांचक और स्फूर्ति वाला खेल है। राज्यपाल श्री दत्त ने आईओबी और वेस्टर्न रेलवे के बीच खेले गए फाइनल मुकाबले का लुत्फ  उठाया। उन्होंने कहा कि दोनों ही टीमों ने काफी उम्दा खेल का प्रदर्शन किया और उनका खेल देखकर उम्मीद है कि और भी कई लोग बास्केटबाल में रूचि लेंगे। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ खेल की दृष्टि से प्रगतिशील प्रदेश है और खेल के क्षेत्र में बढ़ोत्तरी हो रही है। उन्होंने छत्तीसगढ़ की जीत पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि टीम के खिलाड़ियों ने काफी कमाल का प्रदर्शन दिखाया। उन्होंने यह भी कहा कि जरूरत इस बात की है कि बच्चों के पालक खेल के प्रति प्रोत्साहन दें जिससे वे खेलने के लिए आगे आएं।
झारखंड में भी मिलेगा पदक : लता उसेंडी
समारोह की विशेष अतिथि खेल मंत्री लता उसेंडी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की महिला बास्केटबाल टीम ने उम्दा खेल का प्रदर्शन किया है और उन्हें उम्मीद है कि झारखंड में आयोजित 34वें नेशनल गेम्स में भी मेजबान टीम काफी अच्छा प्रदर्शन करेगी और पदक हासिल करेगी। सुश्री उसेंडी ने कहा कि हाल ही में छत्तीसगढ़ ने कराते में नेशनल गेम्स का पहला स्वर्ण पदक हासिल किया है जो राज्य के लिए महत्वपूर्ण उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में खेल की बुनियादी सुविधाओं के विकास के साथ-साथ खेलों का भी विकास हो रहा है।
खेलों का वातावरण बना है : बृजमोहन
फेडरेशन कप के समापन समारोह की अध्यक्षता करते हुए लोक निर्माण मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि इस प्रतियोगिता के आयोजन से राजधानी के साथ-साथ प्रेदश में भी खेलों का वातावरण बना है। उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि इनडोर स्टेडियम का उद्घाटन सही मायने में 25वीं फेडरेशन कप बास्केटबाल प्रतियोगिता के साथ हुआ। श्री अग्रवाल ने कहा कि राज्य के लिए यह गौरव की बात है कि महिला टीम ने फेडरेशन कप का स्वर्ण पदक हासिल किया।
टाप फोर टीमें
महिला वर्ग
1. छत्तीसगढ़
2. दक्षिण रेलवे
3. दिल्ली
4. केरल
पुरुष वर्ग
1. वेस्टर्न रेलवे
2. अईओबी चेन्नई
3. इंडियन आर्मी
4. ओएनजीसी
नेशनल गेम्स के लिए बास्केटबाल की टीमें घोषित
34वें नेशनल गेम्स के लिए छत्तीसगढ़ की महिला और पुरुष बास्केटबाल टीमें घोषित कर दी गई है। महिला टीम की कमान अंजु लकड़ा को दी गई है और पुरुष टीम का कप्तान अजय प्रताप सिंह को बनाया गया है। राज्य की महिला टीम में कप्तान अंजु लकड़ा, सीमा सिंह, भारती नेताम, पुष्पा, अकांक्षा सिंह, अरुणा किंडो, एल दीपा, शोषण तिर्की (सभी दपूम रेलवे बिलासपुर), कविता, जेलना जोश (बीएसपी), पूजा देशमुख (रायपुर), निकिता गोदामकर (राजनांदगांव), मुख्य कोच राजेश पटेल, सहायक कोच इकबाल अहमद खान, प्रबंधक साजी टी थामस शामिल हैं। पुरुष वर्ग की टीम में अजय प्रताप सिंह कप्तान, किरणपाल सिंह, पवन तिवारी, अंकित पाणिग्रही, नलीन शर्मा,   श्याम सुंदर, समीर राय, लुमेंद्र साहू, मनोज सिंह, सुशांत, आशुतोष सिंह, जानकी रामनाथ, मुख्य कोच आरएस गौर, सहायक कोच मो. असलम, प्रबंधक निलंजन नियोगी शामिल हैं। छत्तीसगढ़ की टीमों से राज्य संघ के चेयरमेन सोनमणी बोरा, अध्यक्ष राजीव जैन, उपाध्यक्ष अनिल पुसदकर, विजय डब्ल्यू देशपांडे, कमल सिंघल सहित कई पदाधिकारियों ने बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की है।

कोई टिप्पणी नहीं: