20 फ़रवरी, 2011

अंबर का कराते संघ ने किया सम्मान



रायपुर। झारखंड नेशनल गेम्स में छत्तीसगढ़ के लिए कराते में स्वर्ण पदक  हासिल करने वाले राजनांदगांव के खिलाड़ी अंबर सिंह भारद्वाज का अग्रसेन भवन में छत्तीसगढ़ कराते संघ ने सम्मान किया। अंबर ने कराते के 84 किलोग्राम वजन वर्ग में छत्तीसगढ़ के लिए पहला स्वर्ण पदक  हासिल कर इतिहास रच दिया। छत्तीसगढ़ कराते संघ के सचिव अजय साहू ने बताया कि सम्मान समारोह के तहत अंबर सिंह को स्मृति चिन्ह, अभिनंदन पत्र प्रदान किया गया। अंबर ने राज्य के लिए कई बार राष्ट्रीय स्तर पर पदक हासिल किया है। इस दौरान अंबर ने कहा कि उनकी माता ने कहा था कि जब तक तपोगे नहीं तब तक सोना नहीं पाओगे और मां की इसी प्रेरणा ने उसे आगे बढ़ने के लिए हमेशा प्रेरित किया। अंबर ने बताया कि मुकाबले की फाइनल फाइट के दौरान राज्य ओलंपिक संघ के सचिव बशीर अहमद खान ने काफी उत्साहित किया और यह भी कहा कि फाइट जीतने के बाद ही वे सब साथ में खाना खाएंगे। ऐसा हुआ भी। अंबर ने कहा कि वे राज्य के लिए लगातार अपना बेहतर प्रदर्शन जारी रखेंगे। इस दौरान राज्य कराते संघ के अध्यक्ष विजय अग्रवाल, सचिव अजय साहू, डा. अनिल वर्मा, नीता डुमरे, कैलाश मुरारका सहित कई खेल संघों के पदाधिकारी और खिलाड़ी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं: