28 फ़रवरी, 2011

राजधानी को स्क्वैश एकेडमी की सौगात


मुख्यंत्री डॉ. रमण सिंग स्क्वैश के नेशनल प्लेयर्स के साथ.

मुख्यमंत्री ने दी छत्तीसगढ़ स्क्वैश एसोसिएशन 
की बैठक में सैध्दांतिक सहमति
 छत्तीसगढ़ स्क्वैश एसोसिएशन की महत्वपूर्ण बैठक 

प्रमुख शहरों के खेल स्टेडियम में बनेंगे स्कवैश कोर्ट
रायपुर. मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि स्क्वैश के खेल को बढ़ावा देने के लिए रायपुर में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की सर्व सुविधायुक्त स्कवैश खेल अकादमी की स्थापना की पहल की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कल यहां अपने निवास पर आयोजित छत्तीसगढ़ स्क्वैश एसोसिएशन की एक महत्वपूर्ण बैठक में इस प्रस्ताव को सैध्दांतिक सहमति प्रदान की। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के साथ छत्तीसगढ़ स्कवैश एसोसिएशन के अध्यक्ष भी हैं। बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में जहां इंडोर खेल स्टेडियम और अच्छे स्टेडियम बनाए जा रहे हैं, वहां भी स्कवैश कोर्ट बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि भिलाई-दुर्ग, बिलासपुर, राजनांदगांव और कोरबा में स्कवैश कोर्ट बनाए जाएंगे। डॉ. सिंह ने बैठक में संघ की ओर से स्कवैश को बढ़ावा देने के लिए छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय स्तर की स्पर्धाएं आयोजित करने के प्रस्ताव को भी सहमति प्रदान की। राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता आगामी जुलाई-अगस्त माह में आयोजित की जाएगी। बैठक में खेल एवं युवा कल्याण विभाग के संचालक श्री जी.पी. सिंह भी उपस्थित थे।
    मुख्यमंत्री ने राज्य में चल रही स्कवैश खेल की गतिविधियों तथा विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में राज्य के खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि राज्य में स्कवैश खेल के लिए जरूरी अधोसंरचना के विकास के लिए राज्य शासन द्वारा हर संभव मदद दी जायेगी। इस अवसर पर उन्होंने 34 वें राष्ट्रीय खेलों में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व करने वाले प्रदेश के खिलाड़ियों सहित राज्य के अन्य कई वरिष्ठ एवं जूनियर बच्चों की हौसला अफजाई की। उन्होंने 34 वें राष्ट्रीय खेलों में हिस्सा लेने वाले राज्य के स्कवैश खिलाड़ियों बालक वर्ग में रूचिर जिंदल, कुन्दन सिंह और प्रशान्त अग्रवाल तथा बालिका वर्ग में निकिता मिश्रा, आरूषी चौहान और शौर्या यदु और छत्तीसगढ़ स्कवैश टूर्नामेंट के विजेता खिलाड़ियों को प्रमाण पत्र वितरित किए। मुख्यमंत्री ने जूनियर वर्ग में आदित्य सिंह, आरूषी चौहान, अरूणी चौहान, शौर्या, श्रध्दा सिंह को पुरस्कृत किया । उन्होंने बच्चों को खेलों के साथ मन लगा कर पढ़ाई करने की समझाईश भी दी। मुख्यमंत्री ने वर्ल्ड स्कवैश फेडरेशन के अध्यक्ष श्री रामाचन्द्रन और छत्तीसगढ़ स्कवैश एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष श्री राकेश सिंह तथा उनकी टीम द्वारा स्कवैश को प्रदेश में बढ़ावा देने के लिए किए गये प्रयासों की सराहना की। बैठक में छत्तीसगढ़ स्कवैश एसोसिएशन के सचिव डॉ. विष्णु श्रीवास्तव सहित अनेक पदाधिकारी और सदस्य उपस्थित थे।


कोई टिप्पणी नहीं: