14 फ़रवरी, 2011

नेशनल गेम्स का पहला गोल्ड कराते में





अम्बर सिंह भारद्वाज ने रचा इतिहास
रायपुर। झारखंड में शुरू हुए 34वें राष्ट्रीय खेलों में सोमवार को छत्तीसगढ़ का खाता खुला और कराते के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी राजनांदगांव के अंबर सिंह भारद्वाज ने राज्य को स्वर्ण पदक दिला दिया। छत्तीसगढ़ के खेल इतिहास में पहली बार राज्य को नेशनल गेम्स का स्वर्ण पदक मिला है।
इस समय झारखंड में मौजूद छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के सचिव बशीर अहमद खान ने नेशनल लुक को दूरभाष पर बताया कि अम्बर ने 84 किलोग्राम वजन वर्ग में बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया। उसने पहले राउंड में  काफी अच्छा खेल दिखाया। फाइनल राउंड में महाराष्ट्र के खिलाड़ी के साथ मुकाबला हुआ जिसे अम्बर ने जीत लिया और छत्तीसगढ़ को पहला स्वर्ण पदक दिलाया। अम्बर की जीत से खेलगांव में मौजूद छत्तीसगढ़ के दल में खुशी की लहर दौड़ पड़ी और सभी एक-दूसरे को बधाइयां देने लगे। अम्बर ने कई राष्ट्रीय स्पर्धाओं में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व किया है और राज्य को पदक दिलाया है। छत्तीसगढ़ को राज्य निर्माण के पिछले एक दशक में नेशनल गेम्स में कराते का पदक नहीं मिला था। यह पहला पदक है। नेशनल  गेम्स में एकमात्र छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व अम्बर कर रहे हैं और इस एकमात्र खिलाड़ी ने राज्य की झोली में स्वर्णिम उपलब्धी दिला दी। अम्बर की इस उपलब्धि पर छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह, खेल मंत्री लता उसेंडी, ओलंपकि संघ के सचिव बशीर अहमद खान, वरिष्ठ उपाध्यक्ष गुरुचरण सिंह होरा, खेल संचालक जीपी सिंह सहित कई पदाधिकारियों और खिलाड़ियों ने हर्ष व्यक्त किया है।अम्बर को मिलेगा एक लाख रुपए का नगद पुरस्कार
अम्बर सिंह भारद्वाज की इस स्वर्णिम उपलब्धि पर उसे एक लाख रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा। मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने झारखंड नेशनल गेम्स के पदक विजेताओं के लिए लाखों रुपए के नगद पुरस्कार की घोषणा की है। डा. सिंह ने टीम गेम और व्यक्तिगत इवेंट दोनों में अलग-अलग घोषणा की है। टीम गेम में स्वर्ण पदक पर पांच लाख रुपए, रजत  पदक पर तीन लाख रुपए और कांस्य पदक पर एक लाख रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा। व्यक्तिगत इवेंट में स्वर्ण पदक पर एक लाख रुपए, रजत पदक पर 75 हजार रुपए और कांस्य पदक पर 50 हजार  रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा।
  नेशनल चैंपियन को परास्त किया अम्बर ने
झारखंड के 34वें नेशनल गेम्स में राजनांदगांव के अम्बर सिंह भारद्वाज ने 84 प्लस वजन वर्ग के कराते के मुकाबले में फाइनल पहुंचने से पूर्व नेशनल चैंपियन को भी परास्त कर दिया। अम्बर ने फाइनल पहुंचने के लिए पूरी ताकत लगा दी। छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के सचिव बश्ीर अहमद खान और अंबर के पिता मुरली भारद्वाज ने बताया कि अम्बर ने अरुणाचल प्रदेश के कोबिन को क्वार्टर फाइनल में 6-1 अंक से परास्त कर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। सेमीफाइनल में अम्बर ने मध्यप्रदेश के मौजूदा नेशनल चैंपियन कुशल थापा को 6-1 अंक से पराजित कर फाइनल में प्रवेश कर लिया। फाइनल में अंबर का मुकाबला महाराष्ट्र के साथ हुआ और यह मुकाबला अंबर ने 5-2 से जीतकर स्वर्ण पदक हासिल कर लिया। अंबर की इस उपलब्धि पर कोच अमल तालुकदार, राज्य कराते डू संघ के अध्यक्ष प्रशांत ठाकुर ने हर्ष व्यक्त किया है।


कोई टिप्पणी नहीं: