05 मार्च, 2011

मूणत वालीबाल संघ के अध्यक्ष बने



वीणा सिंह बनीं मुख्य संरक्षक
रायपुर। छत्तीसगढ़ वालीबाल संघ की बागडोर अब नगरीय प्रशासन मंत्री राजेश मूणत के हाथों चली गई है। मूणत को राज्य वालीबाल संघ का अध्यक्ष बनाया गया है। मोहम्मद अकरम खान एक बार फिर से सचिव चयनित हुए हैं। इसके अलावा श्रीमती वीणा सिंह को मुख्य संरक्षक बनाया गया है। प्रदेश संघ की शनिवार को यहां होटल बेबीलान इन में आयोजित हुई कार्यकारिणी और आमसभा की बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया। इस बैठक में श्री मूणत पूरे समय मौजूद रहे। संघ के पूर्व अध्यक्ष गजराज पगारिया थे जिन्हें संरक्षक बनाया गया। श्री पगारिया इस बैठक में मौजूद नहीं थे। राज्य वालीबाल संघ की बैठक में पूरी कार्यकारिणी का आगामी चार साल के लिए चयन किया गया और राज्य स्तरीय स्पर्धाओं का आबंटन भी किया गया। इस बैठक में वालीबाल फेडरेशन के अलावा राज्य ओलंपिक संघ और खेल विभाग के अधिकारी पर्यवेक्षक के रूप में मौजूद थे। राज्य वालीबाल संघ ने बैठक में कई उपसमितियों का भी गठन किया है।

वालीबाल को मिलेगी नई ऊचाइयां
मंत्री बनकर नहीं बल्कि आम सदस्य बनकर काम करुंगा : मूणत
 छत्तीसगढ़ वालीबाल संघ की शनिवार को हुई कार्यकारिणी और आमसभा की बैठक काफी अहम रही। इस बैठक में नगरीय प्रशासन मंत्री राजेश मूणत को संघ का अध्यक्ष बनाया गया और श्रीमती वीणा सिंह मुख्य संरक्षक मनोनित की गईं। मोहम्मद अकरम खान एक बार फिर से सचिव बनाए गए हैं। संघ की कई और उपसमितियां भी बनाई गई हैं। मूणत के अध्यक्ष बनने से माना जा रहा है कि वालीबाल को अब नई ऊचाइंया मिल जाएंगी और प्रदेश में इस खेल का काफी विकास होगा। श्री मूणत ने साफ कहा है कि वे राज्य वालीबाल संघ में मंत्री होने के नाते नहीं बल्कि आम सदस्य बनकर काम करेंगे और इस खेल का प्रदेश में विकास करेंगे
 छत्तीसगढ़ वालीबाल संघ की जेलरोड स्थित होटल बेबीलान इन में आयोजित की गई कार्यकारिणी की बैठक में प्रदेश के सभी जिलों के पदाधिकारी और कई अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी भी मौजूद थे। बैठक में पिछली बैठक के मिनिट्स  को स्वीकृति देने के अलावा वर्ष 2011-12 में आयोजित होने वाली राज्य स्तरीय सबजूनियर, जूनियर और सीनियर वालीबाल प्रतियोगिता का आबंटन किया गया। इसके बाद वर्ष 2011-12 के  अनुमानित आय-व्यय का विवरण स्वीकृत किया गया। बैठक में इस साल दिसंबर माह में आयोजित होने वाली 60वीं सीनियर नेशनल महिला-पुरुष वालीबाल प्रतियोगिता और 14वीं मिनी नेशनल वालीबाल प्रतियोगिता के आयोजन पर भी चर्चा की गई। सीनियर नेशनल का आयोजन राजधानी के इनडोर और आउटडोर स्टेडियम में किया जाएगा वहीं मिनी नेशनल का आयोजन भिलाई इस्पात संयंत्र को दिया गया है। बैठक में राज्य वालीबाल संघ के नवनियुक्त अध्यक्ष व नगरीय प्रशासन मंत्री राजेश मूणत ने कहा कि स्कूल और कालेज के दौर में वे खिलाड़ी जरूर रहे लेकिन वालीबाल उन्होंने काफी कम खेला है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सबसे ज्यादा वालीबाल का खेल खेला जाता है। अकेले रायपुरा में ही उन्होंने देखा है कि गांव-गांव में कई लोग इसमें रूचि लेते हैं। उन्होंने कहा कि वालीबाल संघ के प्रदेश के सभी वालीबाल के खिलाड़ियो को जोड़कर रखें और संघ को एक परिवार बनाकर चलें। उन्होंने यह भी कहा कि वे इस बात का कभी अहसास नहीं होने देंगे कि वे एक मंत्री की हैसियत से काम कर रहे हैं, बल्कि एक आम सदस्य के रूप में वे काम करेंगे और सभी को साथ लेकर चलेंगे। बैठक में पूर्व अध्यक्ष गजराज पगारिया मौजूद नहीं थे। श्री पगारिया की गैरमौजूदगी को लेकर श्री मूणत ने बताया कि उनकी चर्चा हुई थी और श्री पगारिया ने मुंबई मे ंव्यस्त होने की वजस से बैठक में न आ पाने की जानकारी दी। श्री पगारिया को संघ का संरक्षक बनाया गया है।
प्रदेश संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी डा. एके श्रीवास्तव ने आभार व्यक्त  करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ वालीबाल एसोसिएशन प्रदेश में एकमात्र ऐसा एसोसिएशन है जो निर्विवाद रहा है। उन्होंने राज्य वालीबाल संघ के सचिव मोहम्मद अकरम खान के कार्यों की जमकर सराहना की और कहा कि हर पांच साल में राष्ट्रीय स्पर्धाएं सफलतापूर्वक हो रही हैं और प्रदेश में श्री खान के नेतृत्व में संघ ने काफी विकास किया है। बैठक का संचालन राज्य वालीबाल संघ के सचिव मोहम्मद अकरम खान ने किया। इस बैठक में पर्यवेक्षक के रूप में भारतीय वालीबाल संघ के उपाध्यक्ष कुलदीप वत्स, छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के सचिव बशीर अहमद खान, खेल विभाग के अधिकारी विलियम लकड़ा उपस्थित थे। बैठक में श्री मूणत का भव्य स्वागत  किया गया। इस बैठक में प्रदेश के सभी जिला संघों के अध्यक्ष व सचिव के अलावा मान्यता प्राप्त  विभागीय इकाइयों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।
ये है नई कार्यकारिणी
मुख्य संरक्षक-श्रीमती वीणा सिंह, संरक्षक- गजराज पगारिया, अध्यक्ष-राजेश मूणत, वरिष्ठ उपाध्यक्ष डा. एके श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष-नईमुद्दीन हनफी, एसएन नेमा, सत्येंद्र पांडे, जयराम सिंह, हर्ष सिंहदेव, आफताब सिद्दिकी, सचिव-मोहम्मद अकरम खान, एसोसिएट सचिव-एसएल यादव, विनोद नायर, कोषाध्यक्ष-विश्वनाथ चंद्राकर, संयुक्त सचिव-विजय चंद्रवंशी, फ्रेंकलीन, आबिद बेग, सज्जन सिंह, कार्यकारिणी सदस्य-विमल नायर, ओमप्रकाश सेन,   देवेश निषाद, खेमसागर यादव, सुभाष तिवारी, रंजीत सिंह, सुश्री  रत्ना ओगरे, रामप्रकाश राय, श्रीमती  सुबुही निषाद, केके  गुप्ता।
वालीबाल संघ की उपसमितियां
रेफरी बोर्ड : राजेश्वर सिंह (चेयरमैन), निर्मल सिंह (कन्वीनर), एसएन दासगुप्ता, गौस  बेग, संतोष सिंह, श्रीमती सरोज बाला (सदस्य)। चयन समिति: आशीष अरोरा (चेयरमैन), हेमप्रकाश नायक (कन्वीनर), राजेंद्र राय, श्रीमती स्मृति साव, संजय सिंह, रविंद्र बागी (सदस्य)। टेक्नीकल कमेटी : टीकमदास अंदानी (चेयरमैन), रमेश बहादुर सिंह (कन्वीनर), श्रीनिवास नायर, रमेश सिंह, राजेश सोमवंशी (सदस्य)। कोचिंग कमेटी : एसवी सिंह (चेयरमैन), नितिन पांडे (कन्वीनर), एसएनएच बाबू, दिनेश चौधरी (सदस्य)। अनुशासन समिति : जीडी कौशल (चेयरमैन), गुरमीत सिंह (कन्वीनर), डीएन झा, आरके शर्मा (सदस्य)। वित्त एवं विपणन समिति : सतीश त्रिपाठी (चेयरमैन), मनोज सिन्हा (कन्वीनर), फिदा  हुसैन, लालजी निषाद (सदस्य)।

ओलंपिक संघ से हाथ जोड़ा मूणत ने लेकिन...
नगरीय प्रशासन मंत्री राजेश मूणत के राज्य वालीबाल संघ के अध्यक्ष बनने को लेकर छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के सचिव पद पर काबिज होने के कयास लगाए जा रहे थे और पत्रकारों ने उनसे सवाल  पूछा तो उन्होंने हाथ जोड़कर कहा कि ओलंपिक संघ में जाने का उनका कोई इरादा नहीं है लेकिन यदि कोई जवाबदारी मिलेगी तो उसे वे पूरी तरह निभाएंगे। गौरतलब है कि ओलंपिक संघ का पदाधिकरी बनने के लिए मान्यता प्राप्त किसी राज्य संघ का पदाधिकारी होना जरूरी है और इस समय छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ की कार्यकारिणी लंबित है। श्री मूणत के राज्य वालीबाल संघ का अध्यक्ष बनने को लेकर जमकर चर्चा थी कि ओलंपिक संघ की इसी माह गठित होने वाली कार्यकारिणी में सचिव जैसे महत्वपूर्ण पद उन्हें दिया जा सकता है। बहरहाल पत्रकारों से चर्चा करते हुए श्री मूणत ने कहा कि उनकी कोशिश रहेगी कि विकासखंड स्तर से लेकर वालीबाल का विकास हो और खिलाड़ियों को हरसंभव सुविधा मुहैया कराई जा सके। खिलाड़ियों को रेलवे में भर्ती को लेकर उन्होंने कहा कि वे डीआरएम से चर्चा करेंगे और उन्हें पूरी जानकारी है। श्री मूणत ने कहा कि छत्तीसगढ़ में आयोजित होने वाले 37वें राष्ट्रीय खेलों में वालीबाल की भी भागीदारी होगी और इस खेल के विकास के लिए वे पूरी कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि ग्रास रूट से खिलाड़ियों को राष्ट्रीय प्रशिक्षक मुहैया कराए जाएंगे और प्रदेश में खिलाड़ियों को खेल के मैदान मुहैया हो सकें, उनकी प्राथमिकता होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: