14 फ़रवरी, 2011

नेशनल गेम्स का पहला गोल्ड कराते में





अम्बर सिंह भारद्वाज ने रचा इतिहास
रायपुर। झारखंड में शुरू हुए 34वें राष्ट्रीय खेलों में सोमवार को छत्तीसगढ़ का खाता खुला और कराते के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी राजनांदगांव के अंबर सिंह भारद्वाज ने राज्य को स्वर्ण पदक दिला दिया। छत्तीसगढ़ के खेल इतिहास में पहली बार राज्य को नेशनल गेम्स का स्वर्ण पदक मिला है।
इस समय झारखंड में मौजूद छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के सचिव बशीर अहमद खान ने नेशनल लुक को दूरभाष पर बताया कि अम्बर ने 84 किलोग्राम वजन वर्ग में बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया। उसने पहले राउंड में  काफी अच्छा खेल दिखाया। फाइनल राउंड में महाराष्ट्र के खिलाड़ी के साथ मुकाबला हुआ जिसे अम्बर ने जीत लिया और छत्तीसगढ़ को पहला स्वर्ण पदक दिलाया। अम्बर की जीत से खेलगांव में मौजूद छत्तीसगढ़ के दल में खुशी की लहर दौड़ पड़ी और सभी एक-दूसरे को बधाइयां देने लगे। अम्बर ने कई राष्ट्रीय स्पर्धाओं में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व किया है और राज्य को पदक दिलाया है। छत्तीसगढ़ को राज्य निर्माण के पिछले एक दशक में नेशनल गेम्स में कराते का पदक नहीं मिला था। यह पहला पदक है। नेशनल  गेम्स में एकमात्र छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व अम्बर कर रहे हैं और इस एकमात्र खिलाड़ी ने राज्य की झोली में स्वर्णिम उपलब्धी दिला दी। अम्बर की इस उपलब्धि पर छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह, खेल मंत्री लता उसेंडी, ओलंपकि संघ के सचिव बशीर अहमद खान, वरिष्ठ उपाध्यक्ष गुरुचरण सिंह होरा, खेल संचालक जीपी सिंह सहित कई पदाधिकारियों और खिलाड़ियों ने हर्ष व्यक्त किया है।अम्बर को मिलेगा एक लाख रुपए का नगद पुरस्कार
अम्बर सिंह भारद्वाज की इस स्वर्णिम उपलब्धि पर उसे एक लाख रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा। मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने झारखंड नेशनल गेम्स के पदक विजेताओं के लिए लाखों रुपए के नगद पुरस्कार की घोषणा की है। डा. सिंह ने टीम गेम और व्यक्तिगत इवेंट दोनों में अलग-अलग घोषणा की है। टीम गेम में स्वर्ण पदक पर पांच लाख रुपए, रजत  पदक पर तीन लाख रुपए और कांस्य पदक पर एक लाख रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा। व्यक्तिगत इवेंट में स्वर्ण पदक पर एक लाख रुपए, रजत पदक पर 75 हजार रुपए और कांस्य पदक पर 50 हजार  रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा।
  नेशनल चैंपियन को परास्त किया अम्बर ने
झारखंड के 34वें नेशनल गेम्स में राजनांदगांव के अम्बर सिंह भारद्वाज ने 84 प्लस वजन वर्ग के कराते के मुकाबले में फाइनल पहुंचने से पूर्व नेशनल चैंपियन को भी परास्त कर दिया। अम्बर ने फाइनल पहुंचने के लिए पूरी ताकत लगा दी। छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के सचिव बश्ीर अहमद खान और अंबर के पिता मुरली भारद्वाज ने बताया कि अम्बर ने अरुणाचल प्रदेश के कोबिन को क्वार्टर फाइनल में 6-1 अंक से परास्त कर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। सेमीफाइनल में अम्बर ने मध्यप्रदेश के मौजूदा नेशनल चैंपियन कुशल थापा को 6-1 अंक से पराजित कर फाइनल में प्रवेश कर लिया। फाइनल में अंबर का मुकाबला महाराष्ट्र के साथ हुआ और यह मुकाबला अंबर ने 5-2 से जीतकर स्वर्ण पदक हासिल कर लिया। अंबर की इस उपलब्धि पर कोच अमल तालुकदार, राज्य कराते डू संघ के अध्यक्ष प्रशांत ठाकुर ने हर्ष व्यक्त किया है।


छत्तीसगढ़ का पदक तय




25वीं फेडरेशन कप बास्केटबाल प्रतियोगिता के 
फाइनल में दक्षिण रेलवे के साथ होगी भिडंत

 मेजबान छत्तीसगढ़ की महिला बास्केटबाल टीम अंतत: अपनी उम्मीदों पर सौ फीसदी खरी उतरी। मेजबान ने केरल की महिला टीम को हराकर फाइनल में जगह बना ली है। छत्तीसगढ़ का रजत पदक तय हो गया है और टीम से स्वर्ण या रजत पदक की पूरी उम्मीद भी थी। फाइनल में छत्तीसगढ़ का मुकाबला खिताब की दावेदार दक्षिण रेलवे की टीम से होगा जिसमें कई अंतरराष्ट्रीय और अनुभवी खिलाड़ी शामिल हैं। यह मुकाबला न केवल संघर्षपूर्ण होगा बल्कि इस मुकाबले को जीतने के लिए मेजबान को पूरी ताकत झोंकनी होगी। जानकारों की मानें तो यह मुकाबला यदि छत्तीसगढ़ जीत जाती है तो टीम को 34वें नेशनल गेम्स में पदक हासिल करने से कोई नहीं रोक सकता।
रायपुर। फेडरेशन कप के सेमीफाइनल मुकाबले में छत्तीसगढ़ से पूरी उम्मीद थी कि वह केरल को हराकर फाइनल पहुंचेगी और अपना पदक तय करेगी। ऐसा हुआ भी। सेमीफाइनल में भी छत्तीसगढ़ ने अपना पुराना प्रदर्शन बरकरार रखा। हालांकि इस मैच का पहला और अंतिम क्वार्टर काफी नीरस रहा। पहले क्वार्टर में छत्तीसगढ़ ने सिर्फ पांच अंकों (15-10) की बढ़त बनाई थी। दोनों टीमों ने कुछ विशेष प्रदर्शन नहीं दिखाया। केरल की शुरुआत काफी अच्छी रही। टीम ने पहले दो मिनट में स्कोर करना शुरू कर दिया था लेकिन बाद में छत्तीसगढ़ ने इसे कवर कर लिया। दूसरे क्वार्टर में छत्तीसगढ़ के खिलाड़ियों ने अपने खेल में सुधार लाते हुए स्कोर 39-21 कर दिया। दूसरे क्वार्टर के बाद इनडोर स्टेडिमय पहुंचे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपांशु काबरा ने दोनों टीमों के खिलाड़ियों से परिचय हासिल किया। इस दौरान छत्तीसगढ़ बास्केटबाल संघ के अध्यक्ष राजीव जैन सहित कई पदाधिकारी मौजूद थे। इस मैच के  तीसरे क्वार्टर में मेजबान ने 65-38 अंकों की बढ़त हासिल कर ली। इसके बाद छत्तीसगढ़ ने लगातार अंक हासिल किए और मुकाबला 72-53 अंक से जीतकर फाइनल में प्रवेश कर लिया। टीम की कप्तान और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी अंजु लकड़ा ने 16 अंकों का योगदान दिया। सर्वाधिक 22 अंक •ाारती नेताम ने बनाए जबकि एम पुष्पा ने 18 अंकों का योगदान दिया। केरल की एल मैथ्यू ने 14 और लिकिमोल पी ने 11 अंक बनाए।  कल 15 फरवरी को छत्तीसगढ़ का फाइनल मुकाबला खिताब की प्रबल दावेदार टीम दक्षिण  रेलवे के साथ खेला जाएगा। दिल्ली और केरल के बीच खेले गए दूसरे सेमीफाइनल मैच के पूर्व पहला सेमीफाइनल दोपहर तीन बजे दक्षिण रेलवे और दिल्ली के साथ हुआ। इस मैच को जीतने के लिए दोनों ही टीमों ने पूरी ताकत झोंक दी थी लेकिन दक्षिण रेलवे के आगे दिल्ली के खिलाड़ी बौने साबित हुए। मैच के पहले ही क्वार्टर से दक्षिण रेलवे ने स्कोर करना शुरू कर दिया था। इस मैच में दक्षिण रेलवे ने 71-65 अंक से जीत हासिल कर फाइनल में प्रवेश् कर लिया। रेलवे की स्टार प्लेयर गीता अन्ना जोस ने सर्वाधिक 19 अंक और रेंजेनी पीटर ने 17 व कोकिला एस ने 16 अंक बनाए। यह मैच उतना रोमांचक नहीं रहा जितनी उम्मीद की जा रही थी। दिल्ली के खिलाड़ियों ने हालांकि इस मैच को जीतने पूरा जोर लगा दिया था जिससे मैच का अंतिम क्वार्टर काफी संघर्षपूर्ण हो गया। दिल्ली की अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी प्रशंति सिंह ने सर्वाधिक 17 अंक, रसप्रीत सिद्दू ने 16 और आकांक्षा सिंह ने 11 अंक बनाए। इन तीनों खिलाड़ियों ने हाल ही में •ाारतीय टीम का एशियन गेम्स में प्रतिनिधित्व किया था। पुरुष वर्ग के पहले सेमीफाइनल मुकाबले में वेस्टर्न रेलवे ने ओएनजीसी को हराकर फाइनल में जगह बना ली है। वेस्टर्न रेलवे में कई अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी शमिल हैं और यह टीम खिताब की दावेदार है। वेस्टर्न रेलवे ने एकतरफा 71-48 से जीत हासिल की। विजेता टीम के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी विशेष  ने सर्वाधिक 27 अंक बनाए। गगनदीप सिंग ने 16 और अर्जुन सिंग ने 14 अंक बनाए। ओएनजीसी के मुरली कृष्णा आर ने 17 अंकों का योगदान दिया। इस प्रतियोगिता का पुरुष वर्ग में दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला इंडियन आर्मी और आईओबी के बीच खेला गया। इंडियन आर्मी के खिलाड़ियों ने पहले ही क्वार्टर से बेहतरीन खेल का प्रदर्शन दिखाया।
फेडरेशन कप का समापन आज
25वीं फेडरेशन कप नेशनल बास्केटबाल प्रतियोगिता का समापन कल 15 फरवरी फाइनल मुकाबलों के बाद शाम पांच बजे होगा। समापन समारोह के मुख्य अतिथि राज्यपाल शेखर दत्त होंगे। अध्यक्षता लोक निर्माण मंत्री बृजमोहन अग्रवाल करेंगे। विशेष अतिथि सांसद रमेश बैस, विशेष अतिथि सांसद रमेश बैस, गृहमंत्री ननकी राम कंवर, खेल मंत्री लता उसेंडी, पंचायत मंत्री रामविचार नेताम, खाद्य मंत्री पुन्नुलाल मोहले, कृषि मंत्र चंद्रशेखर साहू, स्वास्थ्य मंत्री अमर अग्रवाल, जल संसाधन मंत्री हेमचंद यादव, वन मंत्री विक्रम उसेंडी, नगरीय प्रशासन मंत्री राजेश मुणत, आदिमजाति मंत्री केदार कश्यप, वाणिज्य मंत्री दयालदास बघेल, विधानसभा उपाध्यक्ष नारायण चंदेल, नेता प्रतिपक्ष रविंद्र चौबे, विधायक देवजी भाई पटेल, नंदे साहू, कुलदीप जुनेजा, महापौर किरणमयी नायक, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती लक्ष्मी वर्मा, सभापति संजय श्रीवास्तव, मुख्य सचिव पी जाय उम्मेन, पुलिस महानिदेशक विश्वरंजन, भारतीय बास्केटबाल संघ के सचिव हरीश शर्मा, बीएसपी प्रबंधक वीके अरोरा,होंगे।
टीम- अंजु लकड़ा   (कप्तान), सीमा सिंह, भारती नेताम, पुष्पा, आकांक्षा सिंह, अरुणा किंडो, एल दीपा, शोषण तिर्की ( सभी दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे), कविता, जेलना जोश ( दोनों भिलाई इस्पात संयंत्र), ज्योति सिंह (रायपुर जिला), विनिता शर्मा (राजनांदगांव जिला), मुख्य कोच भिलाई इस्पात संयंत्र के अंतरराष्ट्रीय कोच राजेश पटेल, सहायक कोच सरजीत चक्रवर्ती, प्रबंधक अनिता पटेल।